Nokia (नोकिया)Success Story in Hindi

नोकिया
नोकिया

नोकिया:-आइये आज हम जानते है नोकिया फ़ोन की सफलता की कहानी
.हम सब में से ज्यादातर लोगो का पहला फ़ोन नोकिया का फ़ोन ही रहा होगा, दोस्तों इस समय तो नोकिया के फ़ोन सैमसंग और एप्पल के आ जाने के बाद गायब से हो गए है ,लेकिन एक समय था की जब मोबाइल फ़ोन की बात होती थी तो हमारे दिमाग में केवल नोकिया का ही नाम आता था.नोकिआ के हार्डवेयर को सबसे मजबूत और टिकाऊ मन जाता था.इसके आलावा ये फ़ोन हमारा पहला फ़ोन होने के कारण हमसे ये इमोशनली भी जुड़ा था.एहि वजह है की आज भले ही नोकिया का फ़ोन ज्यादा मार्किट में नहीं है पर लोगो का विश्वाश अभी भी इस ब्रांड पर बना हुवा है.

 

कोलगेट(colgate) success story
नोकिया कंपनी की शुरुवात 1865 में फ्रेडरिक इडस्टम ने की थी.इसकी शुरुवात मोबाइल कंपनी के तौर पर नहीं ,इसकी सुरुवात पेपर मील बनाने वाली कंपनी के तौर पर हुयी थी.साल 1871 में फ्रेडरिक ने अपने दोस्त लिओ के साथ मील कर एक कंपनी बनायीं जिसका नाम nokia AB रखा|

नोकिआ वहां की एक नदी का नाम है,और इसी नाम से वहां पर एक क़स्बा भी बसा हुवा है.आगे चल कर 1922 में NOKIA AB ने FINNISH RUBBER WORKS और FINISH CABLE WORKS के साथ मील कर इलेक्ट्रॉनिक्स और केबल का कारोबार करने लगी. 1967 में ये तीनो कंपनी एक होकर के NOKIA CORPORATION की स्थापना हुयी,जिसके मुख्य रूप दे चार बिज़नेस थे ,फॉरेस्ट्री,केबल,रबर और इलेक्ट्रॉनिक्स.

 

तीन साल बाद 1970 में नोकिआ कारपोरेशन ने नेटवर्किंग और रेडियो इंडस्ट्री में भी कदम रखा.जहा पर वो आर्मी के लिए आर्मी एक्यूप्मेंट बनाने का काम करती थी.1980 -1990 तक तीन कंपनी को खरीद लिया|
1982 में टेलीफ़ोन कंपनी MOBIRA को खरीद लिया,और अपना पहले फ़ोन लांच किया,जिसका नाम था MOBIRA सीनेटर और उसके पांच साल बाद 1987 में नोकिआ अपना पहला पोर्टेबल फ़ोन MOBIRA CITYMAN नाम के साथ लायी.

1990 में एक कंपनी के साथ मील कर नोकिआ ने अपना पहला GSM नेटवर्क डेवेलोप किया.

 

 

1992 में नोकिया का पहले कमर्शियल GSM फ़ोन NOKIA 1011 लांच किया.और इस तरह नोकिआ ने 1998 तक नोकिआ ने मोटोरोला को पीछे छोड़ कर सबसे ज्यादा बिकने वाला मोबाइल फ़ोन ब्रांड बन गया.2003 में सबसे ज्यादा बिकने वाल फ़ोन NOKIA 1100 लांच किया,शायद इस फ़ोन को आप ने भी उसे किया होगा ,वही फ़ोन जो जिसमे टार्च होता था|

आगे चल कर नोकिआ ने अपना पहले कैमरा फ़ोन NOKIA 7650 लांच किया.और इसके बाद इन्होने कैमरा के साथ बहुत सारे फ़ोन लांच किया.लेकिन मार्किट में सैमसंग के आ जाने से नोकिआ के बुरे दिन शुरू हो गए,और फिर नोकिआ की डिमांड बहुत तेजी से गिरने लगी .

इसी लिए नोकिया ने 2011 में माइक्रोसॉफ्ट के साथ पार्टर्नशिप कर ली और अपना पहले विंडोज फ़ोन लाया, लेकिन इस मोबाइल को भी कुछ खास रेस्पोंस नहीं मिला,जिससे नाक़िआ कंपनी घाटे में चल गयी,और माइक्रोसॉफ्ट ने नोकिआ को २०१३ में टेकओवर कर लिया ,और आगे भी नोकिआ के बहुत सारे फ़ोन लॉनच किये गए,लेकिन नोकिआ के फ़ोन ग्राहकों के मन लुभाने में असफल रहे |

हालांकि लोगो का नोकिआ से इमोशनल अटेचमेंट है क्युकी ,हमने जो पहले फ़ोन देखा और उसे किया वो नोकिआ का ही था.और इसी लिए लोगो को नोकिआ के एक अच्छे फ़ोन का इंतेज़ार है.

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *